Shayari Hindi | वो दूर है हमसे



Top post on IndiBlogger, the biggest community of Indian Bloggers



Hindi Shayari



तस्वीर दिल मे है उनकी तो क्या बडी बात है
 जुबां पर नाम है उनका तो क्या बडी बात है
 और लकिरो मे अगर वो नही
 तो क्या बडी बात है

 
नींद का आलम कल रात कुछ ऐसा था ,
 आंख खोलू तो वो ,
और आंख बंद करू तो वो

 

Poetry In Hindi

 
तकदीर मेरी भी बडी चालाक थी ,
आईने मे जब खुद को देखता था,
 मुई चेहरा बदल देती थी

 
यकीन आयेगा तुम्हे शायद जीतने के बाद
 के हार गये होते तो शायद बेगुनाह होते

 
वो दूर है हमसे,
 ये गम नही है ,
कातिल दूर से ही शिकार कर रहा है ,
 ये भी कोई कम नही है

 
थकान अब नही आती मुझे ,
उसे भी चैन की नींद मॉ की गोद मे ही आती थी







 

Comments

Popular posts from this blog

माचिस की डिब्बी

Poetry For Lover | मेरे महबूब

Hindi Short Poetry