Sunday, 19 February 2017

Teenage Love



वो है कही




कुछ दूर चलके,

 
धीरे-धीरे गुम सी हो गई है आवाज़ वो,

 
कानो को आदत सी हो गई है,

 
खामोशी की अब.

 
 

 

 
धुऑ-धुऑ सा तो नही था,

 
आंखो के आगे ,

 
पर तस्वीर उसकी ,

 
धूंधला –सी गई है अब .

 
 

 
जिक्र बातो मे अक्सर होता है उसका,

 
जुबां पर नाम भी आता है कभी,

 
फिर दिल से एक आवाज़ आती है,

 
और अल्फाज़ दिल मे दबे से रह जाते है अब.

 

 
हाथो को देखा तो लकिरो ने कहा,

 
करीब से देखो ज़रा,

 
वो लाइन जो उससे तुम्हे मिलाती,

 
मिट गई है अब.

 

 

Teenage Love

 


 

 

 

 
बारिश मे वो नाव चलाती थी जब,

 
काश उसमे संग उसके बैठ जाता तब ,

 
छतरी अपने दिल की खोलकर उसमे उसे बैठाता,

 
दुनिया की भीड से दूर एक नयी दुनिया बसाता अब.

 

 

 
किस्से कहाँनियो मे पढा था मैंने,

 
बचपन की यादो मे सुना भी था शायद,

 
के कुछ लोग सिर्फ मिलते है,

 
जुदा होने के लिये अब.

 
 

 
ख्यालो मे हो या फिर कविता मे ,
या फिर उन किस्सो मे
,
वो बसी हुई है
,
हर कहाँनी मे अब.

 

 

 
(चिराग जोशी)

Also Read Tirbhinnat Poha


 


Teenage Love | Teenage Love Story Movies | Teenage Love Quotes | Teenage Love Facts | Teenage  Songs | Teenage Problems | Teenage Novels | Teenage Love Triangle Movies | Teenage Story Movie Bollywood


 

No comments:

Post a Comment

ब्लाग पर आने के लिये बहुत बहुत धन्यवाद