Monday, 18 April 2016

Poems On Rain | बूंद




 
खुशी हो या हो गम के दिन,
साथ हमेशा रहती है.... बूंद
,


ढलती शाम कहु इसे या सुबह की लाली
,
साथ हमेशा रहती है ... बूंद 

 
हर पल को देखकर ,
अपने अस्तित्व को बताने ...बाहर आ जाती है ...बूंद 

 

Poems On Rain

 


खालीपन,उदासी, मुस्कुराहट या फिर खुशी ,
हर बार साथ निभाती है ....बूंद . 


 
सोचो अगर ये बूंद ना होती तो क्या होता,
आँखों मे अहसास ना होता
,
बातो मे विश्वास ना होता
,
जैसे नदी की पहचान उसकी लहरे है
,
वैसे हमारी आत्मा है ...बूंद 





 

Poems On Rain | Rain In Hindi |  Poems On Rain In English |  Rain And Love | Rain In Telugu |  Rain By Famous Poets 




 


4 comments:

  1. वाह भाई.., वाह.. क्‍या बात है। बहुत ही सुंदर रचना। मुझे बेहद पसंद आई। अच्‍छा लिखते हैं आप।

    ReplyDelete
  2. shukriya ji..
    late reply ke liye maafi mangana chahunga

    ReplyDelete

ब्लाग पर आने के लिये बहुत बहुत धन्यवाद