Friday, 28 January 2011

Memories Of Love | फिर तेरी याद आयी




 
भीनी भीनी सी मिट्टी की महक आयी

 
ओस की बूंदों से पत्तो पर चमक आयी 

 
पीछे मुड़कर जब देखा मैंने 

 
तो याद तेरी फिर आयी 

 

 
अँधेरे  को दूर कर सूरज की रोशनी आयी 

 
सन्नाटे को चीरती चिडियों की चहचाहट आयी 

 
राज कई बंद हैं सीने में मेरे 

 
और उन्हें खोलने हँसी तेरी फिर आयी 

 


 

Memories Of Love




 
तेरी बातो का जादू हैं कुछ ऐसा

 
पत्थर भी सुनने लगे हैं ये कुछ ऐसा 

 
मधुशाला की और बढ़ते हुए मेरे कदमो को रोकने 

 
तेरी नशीली निगाहे  फिर आयी 

 

 
मुस्कुराते हुए वो पल फिर आये ,

 
तेरी जुल्फों  की छाव ले आये 

 
सोचा था फिर होगी मुलाकात तुझसे 

 
पर तुझे मुझसे छिनने  

 
ज़माने के ये रिवाज फिर आये .

 

 

(चिराग )




Memories Of Love | Love Quotes | Memories Of Love Drama Eng Sub | Memories Of Love Ep 1 | Love Ending | Love Book | Love Trailer | Love Images


Thursday, 27 January 2011

Love Poem In Hindi | चाहत




 
बागो की कच्ची कलियों की महक 

 
तेरी चूडियो की खनक 

 
वो धुप में बारिश का आना 

 
वो चाँद का बदलो में छुप जाना 

 

 
पौ  फटते तेरी यादो में खो जाना 

 
सपनों में भी तेरा आना 

 
हर साँस में हैं तेरा नाम 

 
तुझे चाहना यही हैं मेरा काम 

 


 

 

 

Love Poem In Hindi


 


 
चाहत को मेरी ना समझाना भूल 

 
तुझे पाना चाहता हूँ 

 
तेरा होना चाहता हूँ 

 
तुझमे ही आज खोना चाहता हूँ 

 

 
चाहू तो ज़िन्दगी तेरे नाम कर दूँ 

 
पर तू ही तो मेरी ज़िन्दगी हैं 

 
तुझे कैसे बतलाऊ 

 
दिखलाऊ कैसे मेरे दिल में बसा प्यार 

 

 
आईने में ना देख तस्वीर अपनी 

 
मेरे दिल में देख तकदीर अपनी 

 
तुझे पाना हैं मुझे 

 
बस यही शख्सियत हैं मेरी

                                                                      (चिराग )

Short Story On Drug | मौत के सौदागर




Love Poem In Hindi | Love Poem In Hindi For Girlfriend  | Hindi Lyrics | Love Poem In Hindi For Boyfriend | Poem  For Husband | Poem Hindi For Wife | Hindi Written In English | Poem In Hindi Short

Lalu Prasad Yadav | लालूजी




 
एक दिन लालूजी बोले राबड़ी से,

 
चलो कर आये हम लन्दन की सैर ,

 
क्यों न बनाये कुछ दिन लन्दन में अपना बसेर.

 

 
(उस पर राबड़ी जी बोली के)

 
लन्दन-वंदन की सैर छोडिये,

 
पहले गठबंधन को जोड़िये,

 
आ रहे है चुनाव करीब अगर हार गए तो रहना पड़ेगा इसी बसेर।

 

 

 
(लालूजी बोलते है)

 
आप चिंता न करे चुनाव की ,

 
इस बार हम ही जीतेंगे गद्दी बिहार की।

 

 

Lalu Prasad Yadav

 


 
इस बार कर ली हमने चुनाव की सारी तेयारी ,

 
और नीतिश से करली है हमने यारी.

 

 
(उस पर राबड़ी जी बोली के)

 
ऐसा क्या किया आपने जो नीतिश बन गए आपके यार,

 
दो दुश्मनों के बीच कैसे पनपा इतना प्यार.

 

 

 
(लालूजी बोलते है)

 
हमने नीतिश से कहा बस इतना,

 
के आधा राज तुम्हारा आधा अपना.

 

 
(उस पर राबडी जी बोली के)

 
लेकिन फिर कोन बनेगा मंत्री और,

 
कोन बनेगा संत्री.

 

 
(लालूजी बोलते है)

 
चिंता न करो देखि है हमने भी खूब दुनिया,

 
नीतिश बनेंगे मनमोहन और तुम सोनिया.

 

 
(उस पर राबडी जी बोली के)

 
हमें आप पर नाज़ है मेरे प्राणनाथ ,

 
आपने तो कर दिए हर मुश्किल रास्ते साफ़.

 

 
अब न है कोई बंधन न है किसी से बेर,

 
चलो बनाये कुछ दिन लन्दन में अपना बसेर.

 

 

(चिराग )







Lalu Prasad Yadav | Lalu Prasad Yadav Children | Yadav Comedy | Yadav Comedy Video On Modi | Lalu Prasad Yadav Cases | Yadav Cartoon | Lalu Prasad Yadav Comedy In Parliament | Lalu Prasad Yadav Children's Age